Thu, Jun 24, 2021
Updated 5:12 pm IST
Updated 5:12 pm IST

राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष बने जयंत चौधरी, कार्यकारणी कि बैठक में लिया गया फैसला

Published on : May 25, 2021, 13:24 PM
By : Bureau
news

HIGHLIGHTS

  • पिता अजीत सिंह की जगह लिया जंयत चौधरी
  • पश्चिम उत्तर प्रदेश में प्रभाव रखने वाली आरएलडी के मुखिया रहे चौधरी अजित सिंह का 6 मई को कोरोना संक्रमण के चलते हो गया था निधन

नई दिल्ली: राष्ट्रीय लोकदल के नए अध्यक्ष के तौर पर जयंत चौधरी चुने गए हैं। मंगलवार को पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की वर्चुअल मीटिंग के दौरान जयंत चौधरी को अध्यक्ष चुने जाने का फैसला हुआ। 

पश्चिम उत्तर प्रदेश में प्रभाव रखने वाली आरएलडी के मुखिया रहे चौधरी अजित सिंह का 6 मई कोरोना संक्रमण के चलते निधन हो गया था। इसके बाद से ही यह पद खाली था, जिसे अब उनके बेटे ने ही संभाला है। इससे पहले जयंत चौधरी उपाध्यक्ष के तौर पर पार्टी का कामकाज देख रहे थे। 

चौधरी अजित सिंह ने 2014 में बागपत सीट से चुनाव हारने के बाद जयंत चौधरी को आगे बढ़ाने का फैसला लिया था और उन्हें उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी दी थी। तब से ही वह पार्टी से जुड़े अहम फैसले ले रहे थे। लंदन स्कूल ऑफ इकनॉमिक्स से पोस्ट ग्रैजुएट की डिग्री हासिल करने वाले जयंत चौधरी अपने पिता अजित सिंह के अलावा दादा चौधरी चरण सिंह की विरासत को भी आगे बढ़ाएंगे। हालांकि आगामी 2022 के विधानसभा चुनावों और 2024 के लोकसभा चुनावों में पार्टी को दोबारा मजबूत स्थिति में ला पाना उनके लिए एक चुनौती होगा।

दरअसल आरएलडी का परंपरागत वोट बैंक कहे जाने वाले जाट समुदाय का झुकाव 2014 के बाद से बीजेपी की ओर बढ़ा है। 2013 के मुजफ्फरनगर दंगों के बाद से आरएलडी के सियासी समीकरण बिगड़ते दिखे थे। हालांकि बीते साल से जारी किसान आंदोलन के चलते आरएलडी के पक्ष में एक बार फिर से समर्थन जुटने की उम्मीद की जा रही है। 

मालूम हो कि 2014 में खुद जयंत चौधरी को भी मथुरा सीट से हार का सामना करना पड़ा था। यही नहीं 2019 में भी वह बागपत लोकसभा सीट से पराजित हो गए थे। हालांकि किसान आंदोलन में वह लगातार एक्टिव नजर आए हैं। आरएलडी की ओर से लगातार किसान पंचायतें की गई हैं। 

फिलहाल आरएलडी ने उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन किया है। पिता के बगैर जयंत चौधरी की 2022 में सबसे बड़ी और पहली सियासी परीक्षा होगी। 2017 के विधानसभा चुनाव में भी आरएलडी को करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा था। ऐसे में यह देखने वाली बात होगी कि आने वाले दिनों में जयंत चौधरी की लीडरशिप में आरएलडी का प्रदर्शन कैसा रहता है।

INSIDE STORY
image

स्पेशल रिपोर्ट

चीन का वुहान: जहां से शुरू हुआ कोरोना का कहर

पटना >>>>>>> वुहान शहर का नाम भले हीं चीन के बीजिंग या शंघाई जैसे शहरों के तौर पर नहीं लिया जाता है, लेकिन दुनिया के नक्शे पर अपना वजूद रखने वाले इस शहर का नाम कोरोना वायरस को लेक

image

देश

आखिर क्यों जरूरी है लॉकडाउन बढाना?

पटना: कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग का ऐलान करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 21 दिन के लॉकडाउन की थी। यह अवधि आगामी 14 अप्रैल को समाप्त हो रहा है। लोगों के मन एक सवाल उठ रहा है कि क्या 15 अप्रै

image

बिहार

बिहार में पूर्ण शराबबंदी ! सिर्फ एक ढकोसला.....

पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भले हीं इस बात का डंका बजा रहे हों कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी है। शराब के मामले में कोई समझौता नहीं करेंगे। लेकिन स्थिति बद से बदतर है। शराब माफियाओं का दबदबा पूरे बिहार