Thu, Jun 24, 2021
Updated 5:12 pm IST
Updated 5:12 pm IST

मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ गुरुग्राम के मेदांता में भर्ती, छाती में दर्द होने की शिकायत

Published on : Jun 9, 2021, 13:43 PM
By : Bureau
news

HIGHLIGHTS

  • मेदांता में डॉक्टर की देख-रेख में शुरू हुआ इलाज
  • छाती में दर्द होने की शिकायत

नई दिल्ली: कांग़्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की तबीयत अचानक खराब हो जाने से उन्हें गुरूग्राम स्थित मेंदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्हें छाती में दर्द होने की शिकायत है। 

मिली जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस नेता कमलनाथ को छाती में दर्द होने की शिकायत पर मेदांता में भर्ती कराया गया है। फिलहाल वरिष्ठ डॉक्टरों की देखरेख में उनका इलाज जारी है।

मालूम हो कि कमलनाथ इंदौर के एक निजी अस्पताल में उस वक्त बाल-बाल बच गए थे जब वह लिफ्ट में मौजूद थे और लिफ्ट अचानक से 10 फीट ऊंचाई से नीचे गिर पड़ी थी। वहीं, लिफ्ट गिरने की एक वजह ओवरलोड होना भी बताया गया था। जिसमें उनकी तबीयत बिगड़ गई थी। 

गौरतलब है कि कमलनाथ इंदौर के डीएनएस अस्पताल में भर्ती वरिष्ठ कांग्रेस नेता रामेश्वर पटेल को देखने पहुंचे थे। इसी क्रम में कमलनाथ के साथ कांग्रेस के अन्य नेता भी लिफ्ट में ऊपर जाने के लिए सवार हो गए और इस बीच लिफ्ट अचानक 10 फीट नीचे गिर पड़ी और दरवाजे लॉक हो गए। इसके बाद तकरीबन 10 मिनट बाद बमुश्किल औजार ढूंढ़ कर लिफ्ट का लॉक खोला गया। इसके बाद कमलनाथ का ब्लड प्रेशर चेक कराया गया था।

INSIDE STORY
image

स्पेशल रिपोर्ट

चीन का वुहान: जहां से शुरू हुआ कोरोना का कहर

पटना >>>>>>> वुहान शहर का नाम भले हीं चीन के बीजिंग या शंघाई जैसे शहरों के तौर पर नहीं लिया जाता है, लेकिन दुनिया के नक्शे पर अपना वजूद रखने वाले इस शहर का नाम कोरोना वायरस को लेक

image

देश

आखिर क्यों जरूरी है लॉकडाउन बढाना?

पटना: कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग का ऐलान करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 21 दिन के लॉकडाउन की थी। यह अवधि आगामी 14 अप्रैल को समाप्त हो रहा है। लोगों के मन एक सवाल उठ रहा है कि क्या 15 अप्रै

image

बिहार

बिहार में पूर्ण शराबबंदी ! सिर्फ एक ढकोसला.....

पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भले हीं इस बात का डंका बजा रहे हों कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी है। शराब के मामले में कोई समझौता नहीं करेंगे। लेकिन स्थिति बद से बदतर है। शराब माफियाओं का दबदबा पूरे बिहार