Sun, Sep 19, 2021
Updated 3:07 pm IST
Updated 3:07 pm IST

टोक्यो ओलंपिक: सेमीफाइनल में पहुंचकर भारतीय महिला हॉकी टीम ने रचा इतिहास

Published on : Aug 2, 2021, 10:26 AM
By : Bureau
news

HIGHLIGHTS

  • भारत ने क्वार्टर फाइनल में 3 बार की ओलिंपिक चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को 1-0 से हरा दिया
  • भारत की गुरजीत कौर 22वें मिनट में गोल दाग टीम को 1-0 की लीड दिलाई
  • शूटिंग में भी भारत की आखिरी उम्मीद ऐश्वर्य प्रताप सिंह से

टोक्यो: भारतीय महिला हॉकी टीम ने पहली बार सेमीफाइनल में पहुंचकर इतिहास रच डाली। भारत ने क्वार्टर फाइनल में 3 बार की ओलिंपिक चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को 1-0 से हरा दिया। भारत की गुरजीत कौर 22वें मिनट में गोल दाग टीम को 1-0 की लीड दिलाई थी। उन्होंने डायरेक्ट फ्लिक से गोल किया था। ऑस्ट्रेलिया ने पहली बार ड्रैग फ्लिक से गोल गंवाया।

शूटिंग में भी भारत की आखिरी उम्मीद ऐश्वर्य प्रताप सिंह और संजीव राजपूत का मुकाबला शुरू हो चुका है। ये दोनों 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशन में भारत का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। वहीं कमलप्रीत कौर डिस्कस थ्रो के फाइनल में उतरेंगी। कमलप्रीत अगर मेडल जीतती हैं तो वह एथलेटिक्स में मेडल लाने वाली पहली भारतीय बन जाएंगी।

मालूम हो कि दो क्वार्टर का खेल हो चुका है। पहले क्वार्टर में दोनों टीमों के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिली थी। दोनों ही टीमों ने गोल करने का 1-1 मौका गंवा दिया। मैच के दूसरे ही मिनट में ऑस्ट्रेलिया की फॉरवर्ड खिलाड़ी ने भारतीय गोल पर अटैक किया।

हालांकि भारतीय डिफेंडर्स के आगे उनकी नहीं चली। भारत ने खेल के 9वें मिनट में गोल करने का मौका बनाया था, लेकिन रानी रामपाल चूक गईं। वंदना कटारिया के पास पर रानी ने स्ट्रोक लिया, लेकिन बॉल गोलपोस्ट से जाकर लगी।

भारतीय टीम ने दूसरे क्वार्टर में कमाल की हॉकी खेली। भारतीय महिला टीम को अगर इतिहास रचना है तो अगले 30 मिनट ऐसी ही हॉकी खेलनी होगी। बाकी बचे 2 क्वार्टर में अगर टीम जोर लगा दे तो वह सेमीफाइनल में पहुंच जाएगी।

वहीं शूटिंग में ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर ने उम्मीदें जगा दी हैं। वह पुरुषों के 50 मीटर थ्री पॉजिशन के क्वालिफिकेशन में दूसरे स्थान पर चल रहे हैं। ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर ने नीलिंग में कुल 397 का स्कोर किया है। उन्होंने पहली सीरीज में 99, दूसरी में 100, तीसरी में 98 और चौथी सीरीज में 100 का स्कोर किया।

शूटिंग में संजीव राजपूत और ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर का मुकाबला शुरू हो गया है। पुरुषों के 50 मीटर थ्री पॉजिशन के क्वालिफिकेशन में ये दोनों निशानेबाज हिस्सा ले रहे हैं। थ्री पॉजिशन राइफल में तीन राउंड होते हैं। खिलाड़ियों को 3 पॉजिशन नीलिंग (घुटने के बल बैठना) प्रोन ( लेटकर) और स्टैडिंग (खड़े होकर) पोजिशन में निशाना लगाना होता है। हर राउंड में 40 शॉट्स होते हैं। तीनों राउंड के बाद टॉप 8 खिलाड़ी अगले राउंड के लिए क्वालिफाई करेंगे।

भारत की महिला हॉकी टीम का सामना 3 बार की ओलंपिंक चैम्पियन ऑस्ट्रेलिया से चल रहा है। दुनिया की 10वें नंबर की टीम भारत टोक्यो ओलंपिक में ग्रुप स्टेज (ए) में चौथे स्थान पर रही थी। वहीं चौथे रैंकिंग वाली ऑस्ट्रेलिया ग्रुप-B में टॉप पर थी। उसने अपने सभी 5 मैचों में जीत हासिल की थी।

महिला हॉकी के पहले क्वार्टर फाइनल मुकाबले में अर्जेंटीना ने जर्मनी को 3-0 से हरा दिया। इस जीत के साथ अर्जेंटीना सेमीफाइनल में जगह बनाने वाली पहली महिला हॉकी टीम बन गई।

आज देश की नजरें कमलप्रीत कौर पर होंगी। वह डिस्कस थ्रो के फाइनल में उतरेंगी। कमलप्रीत पदक जीतने में कामयाब रहीं तो एथलेटिक्स में मेडल लाने वाली वह पहली भारतीय बन जाएंगी। क्वालिफिकेशन राउंड में कमलप्रीत के प्रदर्शन को देखते हुए उनसे मेडल लाने की उम्मीद बढ़ चुकी है। उन्होंने 64 मीटर दूर चक्का फेंककर इतिहास रच दिया था।

भारत की दुती चंद महिला 200 मीटर हीट 4 में आखिरी स्थान पर रही हैं। वह 7वें नंबर पर रहीं। इसी के साथ वह सेमीफाइनल में जगह बनाने में नाकाम रही हैं। (सभार; भाष्कर)

INSIDE STORY
image

स्पेशल रिपोर्ट

चीन का वुहान: जहां से शुरू हुआ कोरोना का कहर

पटना >>>>>>> वुहान शहर का नाम भले हीं चीन के बीजिंग या शंघाई जैसे शहरों के तौर पर नहीं लिया जाता है, लेकिन दुनिया के नक्शे पर अपना वजूद रखने वाले इस शहर का नाम कोरोना वायरस को लेक

image

देश

आखिर क्यों जरूरी है लॉकडाउन बढाना?

पटना: कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग का ऐलान करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 21 दिन के लॉकडाउन की थी। यह अवधि आगामी 14 अप्रैल को समाप्त हो रहा है। लोगों के मन एक सवाल उठ रहा है कि क्या 15 अप्रै

image

बिहार

बिहार में पूर्ण शराबबंदी ! सिर्फ एक ढकोसला.....

पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भले हीं इस बात का डंका बजा रहे हों कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी है। शराब के मामले में कोई समझौता नहीं करेंगे। लेकिन स्थिति बद से बदतर है। शराब माफियाओं का दबदबा पूरे बिहार