Wed, Oct 20, 2021
Updated 2:26 pm IST
Updated 2:26 pm IST

भारतीय शेयर मार्केट ने फिर रचा इतिहास, सेंसेक्स 58 हजार के पार

Published on : Sep 3, 2021, 12:04 PM
By : Bureau
news

HIGHLIGHTS

  • सेंसेक्स 217 प्वाइंट उछलकर पहली बार 58 हजार के पार
  • निफ्टी 66.20 प्वाइंट बढ़कर रिकॉर्ड 17,300 पर

नई दिल्ली: भारतीय शेयर बाजार ने एक बार फिर इतिहास रच दिया है। पहली बार सेंसेक्स 58 हजार के पार चला गया है। शुक्रवार को शेयर बाजार खुलते हीं 217 प्वाइंट उछलकर 58,069 पर पहुंच गया, वहीं निफ्टी 66.20 प्वाइंट बढ़कर रिकॉर्ड 17,300 पर पहुंच गया है। हालांकि एक दिन पहले भी बीएसई सेंसेक्स 514 प्वाइंट उछलकर नए रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ था। वहीं एनएसई निफ्टी भी 157.90 प्वाइंट चढ़कर 17,234.15 के उच्चतम स्तर पर बंद हुआ था।

वैसे तो आज दिनभर किन शेयरों में सबसे ज्यादा उछाल और गिरावट आएगा, इसकी रिपोर्ट शाम तक मिलेगी. लेकिन कल सेंसेक्स में शामिल शेयरों में 3.34 फीसदी की तेजी के साथ सर्वाधिक फायदा में टीसीएस का शेयर रहा था। इसके अलावा, एचयूएल, अल्ट्राटेक सीमेंट, डा. रेड्डीज, नेस्ले इंडिया, कोटक बैंक, और टाइटन प्रमुख रूप से लाभ में रहें।

दूसरी तरफ, महिंद्रा एंड मंहिद्रा के शेयर में सर्वाधिक 2.29 प्रतिशत की गिरावट आयी. कंपनी ने कहा कि वह वैश्विक स्तर पर सेमीकंडक्टर की कमी के कारण उत्पादन में 25 प्रतिशत की कमी करेगी। इससे कंपनी का शेयर नीचे आया। गिरावट वाले अन्य शेयरों में बजाज ऑटो, बजाज फिनसर्व, बजाज फाइनेंस, एशियन पेंट्स और एल एंड टी शामिल हैं। इनमें 0.79 फीसदी तक की गिरावट रही। 

INSIDE STORY
image

स्पेशल रिपोर्ट

चीन का वुहान: जहां से शुरू हुआ कोरोना का कहर

पटना >>>>>>> वुहान शहर का नाम भले हीं चीन के बीजिंग या शंघाई जैसे शहरों के तौर पर नहीं लिया जाता है, लेकिन दुनिया के नक्शे पर अपना वजूद रखने वाले इस शहर का नाम कोरोना वायरस को लेक

image

देश

आखिर क्यों जरूरी है लॉकडाउन बढाना?

पटना: कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग का ऐलान करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 21 दिन के लॉकडाउन की थी। यह अवधि आगामी 14 अप्रैल को समाप्त हो रहा है। लोगों के मन एक सवाल उठ रहा है कि क्या 15 अप्रै

image

बिहार

बिहार में पूर्ण शराबबंदी ! सिर्फ एक ढकोसला.....

पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भले हीं इस बात का डंका बजा रहे हों कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी है। शराब के मामले में कोई समझौता नहीं करेंगे। लेकिन स्थिति बद से बदतर है। शराब माफियाओं का दबदबा पूरे बिहार