Wed, Oct 20, 2021
Updated 2:26 pm IST
Updated 2:26 pm IST

फेसबुक ठप होने से 52 हजार करोड़ रुपये का नुकसान, 5 फीसदी शेयर गिरे

Published on : Oct 5, 2021, 10:17 AM
By : Bureau
news

HIGHLIGHTS

  • फेसबुक में यह 2008 के बाद आई सबसे बड़ी तकनीकी खामी है
  • फेसबुक के शेयरों में भी 5 प्रतिशत की बड़ी गिरावट आई
  • कंपनी को 7 अरब डॉलर (52,100 करोड़ रुपये) का बड़ा झटका लगा

नई दिल्ली: फेसबुक, इंस्टाग्राम और व्हाट्सऐप की सेवाएं सोमवार रात करीब 6 घंटे ठप रहने से दुनिया भर में यूजर को काफी दिक्कतें आईं। वहीं इससे फेसबुक के शेयरों में भी 5 प्रतिशत की बड़ी गिरावट आई और कंपनी को 7 अरब डॉलर (52,100 करोड़ रुपये) का बड़ा झटका लगा।

2008 के बाद आई सबसे बड़ी तकनीकी खामी

विश्व की दिग्गज टेक कंपनी फेसबुक में यह 2008 के बाद आई सबसे बड़ी तकनीकी खामी है। फेसबुक साल 2008 में एक वायरस की चपेट में आ गई थी, जिसके बाद साइट पूरे 24 घंटे तक ठप रही थी। हालांकि तब फेसबुक के यूजर्स 10 करोड़ भी नहीं थे। लेकिन अब विश्व में फेसबुक के यूजर की संख्या अरबों में है। इस दौरान फेसबुक, व्हाट्सऐप यूजर ट्विटर पर अपनी परेशानी बयां करते रहे। 

फेसबुक सीईओ ने मांगी माफ़ी 

फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने यूजर्स को हुई इस खामी के लिए माफी भी मांगी है। फेसबुक ने भी एक बयान जारी कर रहा है कि लोगों और कारोबारियों हुई विश्व भर में परेशानी के लिए वो खेद जताती है। हालांकि फेसबुक ने यह नहीं बताया है कि इस तकनीकी खामी का कारण क्या रहा है।

वहीं व्हाट्सऐप ने भी एक बयान जारी कर यूजर को हुई परेशानी के लिए माफी मांगी है। उसने कहा है कि व्हाट्सऐप की सेवाएं धीरे-धीरे सामान्य हो रही हैं और हम तकनीकी गड़बड़ियों पर काम कर रहे हैं।

सर्वर एरर का आ रहा था संदेश 

उपयोगकर्ताओं का कहना है कि सोमवार रात को फेसबुक, व्हाट्सऐप या इंस्टाग्राम की वेबसाइट या ऐप खोलने पर सर्वर एरर का संदेश आ रहा था। सोशल साइटों की तकनीकी खामियों पर निगाह रखने वाली डाउनडिटेक्टर कॉम का कहना है कि यह तकनीकी दिक्कत दुनिया के सभी हिस्सों में सामने आई, मगर ये नहीं कहा जा सकता कि इससे कितने यूजर प्रभावित हुए होंगे। जबकि नेटवर्क मॉनीटरिंग साइट थाउजेंड आइस का कहना है कि यह परेशानी संभवतः डीएनएस फेलर की वजह से हुई है।

INSIDE STORY
image

स्पेशल रिपोर्ट

चीन का वुहान: जहां से शुरू हुआ कोरोना का कहर

पटना >>>>>>> वुहान शहर का नाम भले हीं चीन के बीजिंग या शंघाई जैसे शहरों के तौर पर नहीं लिया जाता है, लेकिन दुनिया के नक्शे पर अपना वजूद रखने वाले इस शहर का नाम कोरोना वायरस को लेक

image

देश

आखिर क्यों जरूरी है लॉकडाउन बढाना?

पटना: कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग का ऐलान करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 21 दिन के लॉकडाउन की थी। यह अवधि आगामी 14 अप्रैल को समाप्त हो रहा है। लोगों के मन एक सवाल उठ रहा है कि क्या 15 अप्रै

image

बिहार

बिहार में पूर्ण शराबबंदी ! सिर्फ एक ढकोसला.....

पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भले हीं इस बात का डंका बजा रहे हों कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी है। शराब के मामले में कोई समझौता नहीं करेंगे। लेकिन स्थिति बद से बदतर है। शराब माफियाओं का दबदबा पूरे बिहार