Wed, Oct 20, 2021
Updated 2:26 pm IST
Updated 2:26 pm IST

लम्बे समय बाद सार्वजनिक कार्यक्रम में शामिल हुए लालू, बिहार की राजनीति पर पड़ेगा बड़ा असर

Published on : Oct 9, 2021, 10:52 AM
By : Bureau
news

HIGHLIGHTS

  • बिहार की राजनीति में लालू प्रसाद यादव का एक अलग ही स्थान है
  • लालू प्रसाद यादव दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे और रामविलास पासवान को श्रद्धांजलि अर्पित की
  • लालू प्रसाद ने इस मौके पर कहा कि रामविलास पासवान हमारे संघर्ष के दिनों के साथी थे

पटना: बिहार की राजनीति में लालू प्रसाद यादव का एक अलग ही स्थान है। अगर लालू चलते-फिरते दिख जाते हैं तो उनके समर्थकों का उत्साह चरम पर पहुंच जाता है। चारा घोटाले के मामले में जेल में करीब तीन साल तक जेल में रहेे लालू यादव जब से जमानत पर बाहर आए हैं, दिल्ली में ही जमे हैं। ऐसे में उनके समर्थकों के बीच अलग ही माहौल बन रहा है। हर कोई उन्हें एक बार फिर सार्वजनिक जीवन में सक्रिय देखना चाहता है। ऐसे में लालू ने समर्थकों को बड़ा संदेश दे दिया है।

लालू प्रसाद यादव के दिल्ली में रहने को लेकर पिछले दिनों उनके ही बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने उनको बंधक बनाए जाने की बात कह दी थी। लालू यादव जैसे नेता को अगर कोई बंधक बनाए जाने की बात कही गई, तो उसको लेकर पिछले दिनों लालू को ही सामने आकर सफाई देनी पड़ी। अब लालू प्रसाद यादव ने दिल्ली स्थित आवास से बाहर निकल कर इस प्रकार की राजनीतिक चर्चा पर विराम लगाने की कोशिश की है। इसका असर बिहार में भी देखने को मिलेगा।

दरअसल, पिछले दिनों तेज प्रताप यादव को पार्टी से हटाए जाने संबंधी मामला भी जोर पकड़ा है। बड़े बेटे को ही पार्टी में नहीं रहने का दावा उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने किया। शिवानंद तिवारी लालू प्रसाद के साथ-साथ तेजस्वी यादव के भी काफी करीबी बताए जाते हैं। ऐसे में उनके बयान के बाद प्रदेश की राजनीति में एक अलग प्रकार का उबाल आने की आशंका है। राजद में ही दो गुट हुआ तो वोटर बंटते नजर आ सकते हैं।

उपचुनाव से पहले हुए सक्रिय 

बिहार में दो सीटों तारापुर व कुशेश्वरस्थान विधानसभा उप चुनाव से पहले पार्टी को किसी प्रकार का नुकसान न हो, इसके लिए लालू प्रसाद ने अब बाहर निकल कर राजनीतिक संदेश देने की कोशिश की है। इसके लिए उन्होंने पूर्व केंद्रीय मंत्री व अपने पुराने साथी रामविलास पासवान की पूण्यतिथि का दिन चुना। वे दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे और रामविलास पासवान को श्रद्धांजलि अर्पित की।

लालू प्रसाद ने इस मौके पर कहा कि रामविलास पासवान हमारे संघर्ष के दिनों के साथी थे। हम उनकी पूण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं। लालू प्रसाद ने इस कार्यक्रम में शामिल होकर साफ कर दिया है कि उन्हें किसी ने कैद नहीं किया हुआ है और वे अभी भी राजनीति में पूरी तरह से सक्रिय हैं। अगर कोई उन्हें चूका हुआ मान रहा है तो यह उनकी सबसे बड़ी भूल साबित होगी। लालू ने विधानसभा उप चुनाव के वोटरों को भी एक प्रकार का संदेश दे दिया है कि एकजुट रहें।

INSIDE STORY
image

स्पेशल रिपोर्ट

चीन का वुहान: जहां से शुरू हुआ कोरोना का कहर

पटना >>>>>>> वुहान शहर का नाम भले हीं चीन के बीजिंग या शंघाई जैसे शहरों के तौर पर नहीं लिया जाता है, लेकिन दुनिया के नक्शे पर अपना वजूद रखने वाले इस शहर का नाम कोरोना वायरस को लेक

image

देश

आखिर क्यों जरूरी है लॉकडाउन बढाना?

पटना: कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग का ऐलान करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 21 दिन के लॉकडाउन की थी। यह अवधि आगामी 14 अप्रैल को समाप्त हो रहा है। लोगों के मन एक सवाल उठ रहा है कि क्या 15 अप्रै

image

बिहार

बिहार में पूर्ण शराबबंदी ! सिर्फ एक ढकोसला.....

पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भले हीं इस बात का डंका बजा रहे हों कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी है। शराब के मामले में कोई समझौता नहीं करेंगे। लेकिन स्थिति बद से बदतर है। शराब माफियाओं का दबदबा पूरे बिहार