Wed, Oct 20, 2021
Updated 2:26 pm IST
Updated 2:26 pm IST

शहीद दिवस’और ‘अंतिम अरदास’ में शामिल होंगी प्रियंका गांधी, मंच पर नहीं मिल सकता जगह

Published on : Oct 12, 2021, 09:32 AM
By : Bureau
news

HIGHLIGHTS

  • मारे गए चार किसानों को श्रद्धांजलि देने के लिए मंगलवार यानी आज ‘शहीद किसान दिवस’मनाएंगे
  • कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा आज लखीमपुर खीरी का दौरा करेंगी
  • प्रियंका गांधी 3 अक्टूबर को हुई हिंसा में मारे गए किसानों के ‘अंतिम अरदास’ में हिस्सा लेंगी

लखनऊ: केंद्र सरकार के तीन विवादास्पद कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान हाल में लखीमपुर खीरी हिंसा  में मारे गए चार किसानों को श्रद्धांजलि देने के लिए मंगलवार यानी आज ‘शहीद किसान दिवस’मनाएंगे।  इसके अलावा कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा आज लखीमपुर खीरी का दौरा करेंगी। इस दौरान वह 3 अक्टूबर को हुई हिंसा में मारे गए किसानों के ‘अंतिम अरदास’ में हिस्सा लेंगी।  प्रियंका गांधी वाड्रा लखीमपुर खीरी जाने के लिए लखनऊ एयरपोर्ट से रवाना हो चुकींं हैं। 

राजनीतिक लोगों को मंच साझा करने की अनुमति नहीं 

भारतीय किसान यूनियन (टिकैत) के पदाधिकारी के अनुसार, किसी भी राजनीतिक दल के राजनेता को मंगलवार की अंतिम प्रार्थना में किसान नेताओं के साथ मंच साझा करने की अनुमति नहीं दी जाएगी और वहां केवल संयुक्त किसान मोर्चा के नेता मौजूद रहेंगे। 40 से अधिक कृषक संगठनों के संघ संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने देश भर के किसान संगठनों और प्रगतिशील समूहों से अपील की कि देश भर में प्रार्थना एवं श्रद्धांजलि सभा का आयोजन कर यह दिवस मनाएं और इसके बाद शाम में मोमबत्ती जलाएं। संयुक्त किसान मोर्चा ने एक बयान जारी कर यह जानकारी दी। 

गौरतलब हो कि संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) के एक बयान में कहा गया था कि 12 अक्टूबर (कल) को एसकेएम के आह्वान पर शहीद किसान दिवस मनाया जाएगा। लखीमपुर खीरी नरसंहार के शहीदों का अंतिम अरदास कल तिकुनिया के साहेबजादा इंटर कॉलेज में होगा।  इसके लिए तैयारियां कर ली गईं हैं। श्रद्धांजलि सभा में हजारों किसानों के शामिल होने की उम्मीद है। 

INSIDE STORY
image

स्पेशल रिपोर्ट

चीन का वुहान: जहां से शुरू हुआ कोरोना का कहर

पटना >>>>>>> वुहान शहर का नाम भले हीं चीन के बीजिंग या शंघाई जैसे शहरों के तौर पर नहीं लिया जाता है, लेकिन दुनिया के नक्शे पर अपना वजूद रखने वाले इस शहर का नाम कोरोना वायरस को लेक

image

देश

आखिर क्यों जरूरी है लॉकडाउन बढाना?

पटना: कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग का ऐलान करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 21 दिन के लॉकडाउन की थी। यह अवधि आगामी 14 अप्रैल को समाप्त हो रहा है। लोगों के मन एक सवाल उठ रहा है कि क्या 15 अप्रै

image

बिहार

बिहार में पूर्ण शराबबंदी ! सिर्फ एक ढकोसला.....

पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भले हीं इस बात का डंका बजा रहे हों कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी है। शराब के मामले में कोई समझौता नहीं करेंगे। लेकिन स्थिति बद से बदतर है। शराब माफियाओं का दबदबा पूरे बिहार