Wed, Oct 20, 2021
Updated 2:26 pm IST
Updated 2:26 pm IST

देश में कोरोना के 14,313 नए मामलें, 224 दिन में सबसे कम

Published on : Oct 12, 2021, 09:57 AM
By : Bureau
news

HIGHLIGHTS

  • भारत में कोरोना का रिकवरी रेट 98.04 फीसदी पर पहुंच गया है
  • 24 घंटे में कोरोना से स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या 26,579 रही
  • कोरोना के एक्टिव केस की तादाद एक फीसदी से भी कम रह गई है

नई दिल्ली: देश में कोरोना के 14,313 नए मामले मंगलवार को सामने आए, जो 224 दिनों में सबसे कम केस हैं। भारत में कोरोना का रिकवरी रेट 98.04 फीसदी पर पहुंच गया है, मार्च 2020 के बाद सबसे ज्यादा है। पिछले 24 घंटे में कोरोना से स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या 26,579 रही। अब तक कुल 3,33, 20,057 तक पहुंच गई है।  देश में कोरोना के एक्टिव केस की तादाद एक फीसदी से भी कम रह गई है।  देश में कोरोना टीकाकरण की संख्या भी 95 करोड़ से ज्यादा हो गई है। कोरोना के मामलों में कमी के पीछे ये भी एक वजह मानी जा रही है। 

एक्टिव केस 2,14,900 है 

एक्टिव केस कुल कोरोना के मामलों के मुकाबले महज 0.63 फीसदी रह गए हैं, जो मार्च 2020 के बाद सबसे कम अनुपात है। भारत में एक्टिव केस 2,14,900 रह गए हैं, जो 212 दिनों में सबसे कम आंकड़ा है। भारत में कोरोना का साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट 1.48 फीसदी रह गया है, जो 190 दिनों में सबसे कम रहा है। जबकि डेली पॉजिटिविटी रेट 1.21 फीसदी है, जो 43 दिनों में सबसे कम है। 

गौरतलब हो कि देश में अब तक 58.50 करोड़ कोविड-19 टेस्ट कराए जा चुके हैं। अभी भी केरल, महाराष्ट्र जैसे राज्यों में ही सबसे ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। देश में पिछले 24 घंटे में 181 मरीजों की कोरोना वायरस से मौत हुई है, जबकि पिछले 24 घंटे में 65.86 करोड़ वैक्सीन लगाई गई हैं। वैक्सीनेशन का कुल आंकड़ा 95.89 करोड़ तक पहुंच गया है।  

INSIDE STORY
image

स्पेशल रिपोर्ट

चीन का वुहान: जहां से शुरू हुआ कोरोना का कहर

पटना >>>>>>> वुहान शहर का नाम भले हीं चीन के बीजिंग या शंघाई जैसे शहरों के तौर पर नहीं लिया जाता है, लेकिन दुनिया के नक्शे पर अपना वजूद रखने वाले इस शहर का नाम कोरोना वायरस को लेक

image

देश

आखिर क्यों जरूरी है लॉकडाउन बढाना?

पटना: कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग का ऐलान करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 21 दिन के लॉकडाउन की थी। यह अवधि आगामी 14 अप्रैल को समाप्त हो रहा है। लोगों के मन एक सवाल उठ रहा है कि क्या 15 अप्रै

image

बिहार

बिहार में पूर्ण शराबबंदी ! सिर्फ एक ढकोसला.....

पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भले हीं इस बात का डंका बजा रहे हों कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी है। शराब के मामले में कोई समझौता नहीं करेंगे। लेकिन स्थिति बद से बदतर है। शराब माफियाओं का दबदबा पूरे बिहार