Tue, Aug 3, 2021
Updated 1:53 pm IST
Updated 1:53 pm IST

देश में डेल्टा प्लस वेरिएंट के 40 मरीज, ज्यादातर महाराष्ट्र केरल और तमिलनाडु से

Published on : Jun 23, 2021, 10:46 AM
By : Beuro
news

HIGHLIGHTS

  • ज्यादातर मामले महाराष्ट्र, केरल और तमिलनाडु से
  • सूत्रों के मुताबिक महाराष्ट्र में 21, मध्य प्रदेश में छह, केरल में तीन, तमिलनाडु में तीन, कर्नाटक में दो और पंजाब, आंध्र प्रदेश और जम्मू में एक-एक मामले

नई दिल्ली: देश में कोरोना संक्रमण के मामले भले हीं घटते जा रहे हों, लेकिन डेल्टा प्लस वेरिएंट के मामले बढते जा रहे हैं। प्राप्त जानकारी के मुताबिक देश में ‘डेल्टा प्लस’ वेरिएंट के अबतक 40 मामले दर्ज किए गए हैं। इसमें ज्यादातर मामले महाराष्ट्र, केरल और तमिलनाडु से है। 

सूत्रों के मुताबिक महाराष्ट्र में 21, मध्य प्रदेश में छह, केरल में तीन, तमिलनाडु में तीन, कर्नाटक में दो और पंजाब, आंध्र प्रदेश और जम्मू में एक-एक मामले सामने आए हैं।

सरकारी हवाले से जो जानकारी मिला है, उसके मुताबिक चार राज्य महाराष्ट्र, केरल, मध्य प्रदेश और तमिलनाडु में डेल्टा प्लस वेरिएंट ने दस्तक दी है। सरकार के मुताबिक, भारत उन दस देशों में से एक है, जहां अब तक 'डेल्टा प्लस वेरिएंट मिला है। सरकार ने कहा कि 80 देशों में डेल्टा स्वरूप का पता चला है। इसे लेकर सबसे डरने वाली बात यह है कि यह डेल्टा प्लस वेरिएंट वैक्सीन और इम्युनिटी दोनों को चकमा दे सकता है।

भारतीय सार्स कोव-2 जीनोमिक्स कंसोर्टियम (आईएनएसएसीओजी) राष्ट्रीय प्रयोगशालाओं का एक समूह है जिसे केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने गठित किया है। आईएनएसएसीओजी वायरस के नए वेरिएंट और महामारी के साथ उनके संबंधों का पता लगा रहा है। मोटे तौर पर, दोनों भारतीय टीके कोविशील्ड और कोवैक्सीन डेल्टा वेरिएंट के खिलाफ प्रभावी हैं। लेकिन वे किस हद तक और किस अनुपात में एंटीबॉडी बना पाते हैं, इसकी जानकारी बहुत जल्द साझा की जाएगी।

मालूम हो कि ‘डेल्टा प्लस’ वेरिएंट भारत के अलावा, अमेरिका, ब्रिटेन, पुर्तगाल, स्विट्जरलैंड, जापान, पोलैंड, नेपाल, चीन और रूस में मिला है।

INSIDE STORY
image

स्पेशल रिपोर्ट

चीन का वुहान: जहां से शुरू हुआ कोरोना का कहर

पटना >>>>>>> वुहान शहर का नाम भले हीं चीन के बीजिंग या शंघाई जैसे शहरों के तौर पर नहीं लिया जाता है, लेकिन दुनिया के नक्शे पर अपना वजूद रखने वाले इस शहर का नाम कोरोना वायरस को लेक

image

देश

आखिर क्यों जरूरी है लॉकडाउन बढाना?

पटना: कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग का ऐलान करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 21 दिन के लॉकडाउन की थी। यह अवधि आगामी 14 अप्रैल को समाप्त हो रहा है। लोगों के मन एक सवाल उठ रहा है कि क्या 15 अप्रै

image

बिहार

बिहार में पूर्ण शराबबंदी ! सिर्फ एक ढकोसला.....

पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भले हीं इस बात का डंका बजा रहे हों कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी है। शराब के मामले में कोई समझौता नहीं करेंगे। लेकिन स्थिति बद से बदतर है। शराब माफियाओं का दबदबा पूरे बिहार